मेरी चैट दोस्त नैना

Hello friends, मेरा नाम राहुल है और मेन जैपुर का रहने वला हून। मेन हुमहेसा जब भि फ़री रहता हून देसि सतोरिएस जरूर पदता हून। और सतोरिएस पदने के बाद मुजे लगता है कि मुजसे कोइ लदकि कयु नहि सेक्स करति है मुजे मेन कोइ कमि भि नहि मेन 5'10" समरत हनदसोमे लदका हून और किसि भि लदकि को सेक्स मेन सतिसफ़ी करने मेन एकदम सकसम हून। लेकिन मुजे लगा कि मेरे पास लदकिओ को पताने कि हिम्मत नहि एक दर्र रहता था मुजे कि खै कोइ लदकि मुजे मना ना कर दे वरना मेरा दिल तूत जयेनगा। मेरि उमर 27 साल है एकदम हत्ता कत्ता जवन लदका हून जब मेन 10 साल का था तब से किसि लदकि के साथ सेक्स करने का सपने देखा करता था। मेने भौत सारि सेक्स बूकस पदि और क्सक्सक्स मोविए देकह कर एक हि सपने देखा करता था कि कास ऊस लदकि के साथ मेन सेक्स कर रहा हून। लेकिन सपनो को सुच होने मेन पूरे 14 साल लगे। येअह मेरि फ़िरसत सतोरी है और अब आप के सामने है जलदि और भि सतोरी आप के सामने आने वालि है तो एनजोय करो दोसतो।

मेरि येअह सतोरी एकदम सुचि है जो आप लोगो को एकदम अपने करिब लगेगि। मेन लसत 5 सालो से चतिनग कर रहा हून लेकिन कोइ लदकि मुजसे पतति हि नहि थी सब लदकिओ को सेक्स चत पसनद था जो मुजे एकदम पसनद नहि था तब एकदम चमतकर हुअ एक भौत अस्सहि लदी मेरि दोसत बनि वो अमेरिसा रहति थी और एक इनदिअन थी जिस का नाम नैना था जो देलहि कि रहने वालि थी वो भौत सुनदर और समरत लदी थी वो इतनि सुनदर थी कि जब मेने सम मेन ऊस को फ़िरसत तिमे देखा तो देकहता रह गया और कब मुजे वो पसनद आने लगि मुजे पता तक नहि चला एसे। वो 33 साल कि एकदम बेहद सेक्सी बोदी कि मालकिन थी ऊस के 3 बस्सहे थी लेकिन खै से भि वो 3 बस्सहो कि मा नजर नहि आति थी जब वो सतयलिसत कपदे फन के सम के सामने आति थी तो दिल करता था सम से निकल से चोद दून। लेकिन येअह सब भौत मुसकिल था हुम दोनो को बाते करते हुय 6 मोनथ हो गये फिर एक दिन ऊसने खा कि मेन अपने पति से और बस्सहो से खुश नहि सब तिमे अकेले घर मेन पदति रहति हून मुजे कोइ समजने वला नहि बस तुम मुजे समज सके मेन तुमसे पयर करने लगि हून और सपने देकहति थी कि तुम मुजे खुश कर रहे हो मेने पूचा वो केसे तो वो बोलि कि तुमने मुजे रात सपने मेन खुब चोदा और मुजे एकदम खुश कर दिया। मेरि हिम्मत भद गै एसा सून कर मेने खा मेने तुमहरे साथ सपने मेन कया किया।

तो ऊसने खा कि तुम भौत सेक्सी हो रात मेन सोयि हुइ थी एकदम अकेले अपने निघत गोवन मेन तुम मेरे रूम मेन आये और मेरे पास आके लते गये और मेन भौत घरि निनद मेन थी तुमने मेरे गोवन के अनदर हाथ दाल के मेरे बूबस को मसलने लगे तुमने देखा कि मेरि निनद नहि खुलि तो तुमने मुहा मेन लेके बूबस को चूसने लगे और दबने लगे मेन मधोश होने लगि और मेरि निनद तूत गै तुम एकदम सकपक्का गये लेकिन दरे नहि और बूबस को दबते रहे तुमहे मजा आ रहा था मेने खा हान मुजे बूबस भौत पसनद है और वो भि बदे बदे वेसे तुमहरे कितने बदे है तो वो सरमा के बोलि कि तुम येकिन नहि करोनगे मेने खा बोलो तो तब ऊसने खा 40द मेने खा द का मतलब तो वो बोलि यहा उसा मेन एसे हि सिज़े चलते है लेकिन तुम इतना जान लो येअह भौत बदे होते है बस अनधे को कया चियेअह दो आनखे मेन भौत खुश हो गया मेने खा फिर आगे तो ऊसने खा कि तुम भौत सेतान थी तुमने एकदम से मेरा गोवन पूरा खोल दिया और मेन तुमहरे सामने एकदम ननगि लेति थी तुम भौत गरम हो गये थी और तुमहरि सानसे भौत तेज़ चलने लगि थी मुजे भौत मजा आ रहा था ऊस कि बाते सून कर और सोच भि रहा था कि कास येअह सब सुच मेन हो जाये। फिर ऊसने खा कि तुमने मेरे पूरा बदन पर जबरदसत किस्स करने लगे उप्पेर से लेके निचे तक फिर तुमने बूबस को चोद कर मेरि चुत मेन अपने मुहा को लेके चले गये और अपनि जुबान से ऊस को पयर करने लगे मेन एकदम मधोस होने लगि और गरम होने लगि मुजे फ़िरसत तिमे किसि ने चुत पर जुबन से पयर कया था फिर मेने तुमहरे सारे कपदे निकल दिये और तुम अब मेरे सामने एकदम नकेद खदे थी और मेएन झत से तुमहरे लुनद को अपने हाथ मेन लेके ऊस को अपने हाथ से हिलने लगि फिर कुच देर बाद मुहा मेन दाल के चूसने लगि तुम भौत बेताब होने लगे तो मेने खा मेरे रजा अब तो दिखा दे अपनि रनि के चुत पर अपने लुनद का कमल मेन सोच मेन पद गया जो लदकि इतने दिन तक एकदम चुप सि बाते करति थी आज एकदम बोलद केसे वो भि मेरे सपने देकह कर।

ऊसने खा कि फिर तुम मेरे उप्पेर आगै और अपने 6" लुनद को मेरि चुत मेन रखा और जोर का झतका दिया मेन चिला पदि रहुल धिरे दालो जयेदा बेतबि मत करो किया मेरि चुत फद हिदलोनगे तो तुमने खा हान रनि अपने लुनद का कमला जो दिखना है और तुमने जोर जोर से धके मारने लगे और मेन दरद से चतपते ने लगि लेकिन तुमने जरा भि रहम नहि किया जेसे तुम जनम जनम से पयसे हो और सरा कुवा का पानि एक हि बार मेन पी दलोनगे तुम लगभग 5 मिन तक एसे हि मेरे उप्पेर जम के चुदै कि फिर तुम रूक गये जेसे लगा कि तुमहरा पानि निकलने वला हो मेने पूचा तुम रूके कयु जालिम तो तुमने खा कि अब तुम मेरे उप्पेर आओ और सुच बोलो मुजे उप्पेर चद्द कर करवना भौत पसनद है और मेन फ़ौरन तुमहरे लुनद के उप्पेर बेथ गै और अब मेन रजा बन गै और तुम मेरि रनि अब सब मेरे हाथ मेन था मेने तुमहरि जम के चुदाइ सूरो कर दि 2 मिन हि हुय थी तुम जोर से बोल पदे रजा मेरा पानि आने वला है तो मेने खा मेरे रहुल रनि मेरि चुत मेन हि सब जाने दो और तुमरा गरम गरम पानि मेरि चुत मेन निकल गया लेकिन तुमहरा लुनद अभि तक हरद था और एकदम लोहे कि रोद कि त्रह गरम और हरद मेन लगातर तुमहरिउ चुदाइ करने मेन लगि रहि करिब 5 मिन बाद मेरा पानि भि निकल पदा लेकिन तुम जब तक और होत गये फिर तुमने मुजे दोग्गी बना दिया और मेरे पिचे आके मेरि गानद मेन तुमने धूक मरा और लुनद को गूसने कि कोसिस करने लगे लेकिन तुमहरा लुनद अनदर नहि जा सका तब तुमने मेरि गानद मेन ओइल लगया और फिर एक जोर का जथका मरा तो तुमहरा थोदा लुनद अनदर चला गया मेन भौत जोर से चिलाइ हाह जालिम ने मार दला भौत दरद होने लगा था बलूद तक अगया था लेकिन तुम एकदम जालिम बन गये थी तुमने मुजे चोदना चोदा नहि मेरे दरद कि परवहा तक नहि कि उलता बोला कि येअह दरद तो कुच देर का है मजे तो फिर जनम जनम का है। बस तुम अपने काम मेन लगे रहे कुच देर दरद रहा भि मुजे भौत मजा आने लगा था।

करिब 10 मिन के बाद तुमहरा पूरा पानि मेरि गानद मेन निकल गया और तुम पसीने पसीने हो रहे थी फिर तुम कुच देर मेरे उप्पेर एसे हि लते रहे मुजे सुच भौत अचा लग रहा था ऊस का सपना सून कर और सोच रहा था कि कास येअह सपना सुच हो जाये मेने ऊस से पूचा कि तुम सुच मेन मेरे साथ सेक्स करना पसनद करोनगि तो वो बोलि कि हान जालिम वरना मेन तुमहे अपना येअह सपना कयु सूनति। बस दोसतो यहा से मेरे अस्सहे दिन सूरो हो गये मेने पूचा तुम इनदिअ कब तक आ रहि हो तो वो बोलो मेरे रजा ओने वीक और इनतजार फिर हुम दोनो एक हो जयेनगे हुमहेसा के लिये।

तो दोसतो येअह थी मेरि फ़िरसत दरलिनग नैना कि जुबनि ऊस कि चुदै कि खनि जो अभि तक शिरफ़ सपना है जलदि हि सुच होने वालि है और मेरि किसमत खुलने वालि है। नेक्सत वीक जब नैना आइ तो ऊस के साथ जो कुच भि मेने किया वो नेक्सत कानि मेन तो जयेदा इनतजर नहि करवौनगा जलदि हो वो खनि आप के सामने होनगि। येअह खनि केसि लगि मुजे जरूर बतना मेरि इद

0 comments:

Post a Comment